किशोर की हत्या मामले मे पूर्व डीएसपी के परिजन शक के घेरे में

  • 2017-01-09 10:40:57
  • roopshikha

BHAGALPUR : चार जनवरी को पूर्व DSP स्व. अशोक कुमार दास के घर हुई 12 वर्षीय किशोर की हत्या मामले में पुलिस को अभी तक कोई सुराग नहीं मिल सका है। तिलकामांझी थाने के हवाई अड्डा विक्रमशिला कॉलोनी में DSP का घर है।

SSP मनोज कुमार ने छोटू के गिरफ्तारी का आदेश दिया है। किंतु अभी तक छोटू की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस का शक पूर्व डीएसपी के परिवार के प्रति भी गहराता जा रहा है। पूर्व डीएसपी की पत्नी मृदुला और बेटा संदीप आनंद घर मे ताला लगाकर कही चले गए है। रविवार की रात पुलिस पूछताछ के लिए पूर्व डीएसपी के घर गयी थी।
क्या है मामला
तिलकामांझी थाना क्षेत्र के हवाई अड्डा विक्रमशिला कॉलोनी मे रिटायर्ड डीएसपी के घर काम करने वाली सुलेखा देवी के 12 वर्षीय पुत्र राहुल की लाश संदिग्ध हालत मे मिली थी। राहुल की हत्या गला दबाने और अप्राकृतिक यौनाचार के बाद की गयी थी। इसका खुलासा पोस्टमार्टम की रिपोर्ट मे हुआ था।
इस मामले मे पुलिस ने राहुल के पिता राजू के बयान पर नौकर रामप्रवेश चौधरी उर्फ छोटू, रिटायर्ड डीएसपी की पत्‌नी मृदुला और पुत्र संदीप आनंद के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज की थी।
निर्दोष है परिवार तो क्यो छोड़ा घर
मृतक की मां सुलेखा देवी ने कहा कि बेटे की हत्या के लिए पूर्व डीएसपी की पत्नी मृदुला और बेटा संदीप आनंद भी छोटू की तरह जिम्मेवार है। वे लोग छोटू को बचाने की कोशिश मे लगे है। सुलेखा ने कहा घटना के दिन से ही छोटू को बचाने की कोशिश हो रही है।
मृतक के परिजनो ने बताया कि पूर्व डीएसपी का परिवार भागलपुर मे ही किसी रिश्तेदार के घर पर है। उसने बताया कि पूर्व डीएसपी के परिजनो को उन्होने अपने जमीन और एलआईसी का कागजात देखने को दिया था। किंतु इस प्रकार की घटना घट गयी। इस वजह से सारे कागजात उन्ही के यहां है। उन्हे अपने जरूरी कागजातो की चिंता हो रही है।
पूर्व डीएसपी के परिजनो ने छोटू को छिपने के लिए दिया है ठिकाना
मृतक के परिजनो का आरोप है कि हत्या मामले मे मुख्य आरोपी रामप्रवेश चौधरी उर्फ छोटू को छिपने के लिए पूर्व डीएसपी के परिजनो ने ठिकाना दिया है। पुलिस को छोटू का ठिकाना ढूंढने मे काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। छोटू के जवारीपुर काली स्थान के मकान पर भी छापेमारी की, मगर वहां छोटू नही मिला। छोटू अपने माता पिता के साथ जवारीपुर मे किराए के मकान मे रहता था।
 

Leave A comment