जेल जाने से नहीं समाप्त हुई हक की लड़ाई, अबकी आंदोलन और तेज

  • 2016-12-16 10:08:55
  • roopshikha

BHAGALPUR : कोर्ट से जमानत मिलने के बाद सामाजिक संस्था जन संसद के संरक्षक अजीत कुमार ने कहा कि जेल जाने से गरीबों और भूमिहीनों के हक की लड़ाई समाप्त नहीं हुई है। आंदोलन को और तेज किया जाएगा।

    गुरुवार को जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद अजीत ने ये बातें कहीं। इससे पहले जन संसद के कार्यकर्ताओं ने जेल गेट पर अजीत सहित सभी छह लोगों का स्वागत माला पहनाकर किया। जेल गेट से सभी पैदल तिलकामांझी, कचहरी चौक, घंटाघर, खलीफाबाग और सूजागंज बाजार के रास्ते स्टेशन चौक पहुंचे।
    वहां पर अंबेदकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। अजीत ने कहा कि आठ दिसंबर की घटना पर वह शनिवार को विस्तार से बताएंगे। आगे के आंदोलन की रणनीति भी तैयार की जाएगी। बुधवार को अजीत कुमार समेत सभी छह आंदोलनकारियों को जमानत मिली थी।
    कागजी कार्रवाई पूरा नहीं होने के कारण शाम को जेल से बाहर नहीं आ सके थे। गुरुवार सुबह 11 बजे समर्थक कागजी कार्रवाई पूरा कराने के बाद जेल गेट पर पहुंचे और आधे घंटे बाद सभी लोग बाहर आ गए।
    जेल से छूटने वाले आंदोलनकारियों में सुल्तानगंज के अजीत कुमार के अलावे तिलकपुर के महेश चंद्र दास, पोली पासवान, प्रकाश दास, कोलगामा के रंजन कुमार व बंटी कुमार शामिल थे। बता दें कि आठ दिसंबर की दोपहर डीएम कार्यालय के बाहर भूमिहीनों व पर्चाधारियों का आंदोलन उग्र हो गया था।
    जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था। मामले में इनलोगों को गिरफ्तार किया गया था। 

    Leave A comment

    यह भी देखें

    योगी के सीएम बनने पर ओवैसी ने कसा तंज, कहा ये है पीएम का 'न्यू इंडिया'

    BHAGALPUR : एआईएमआईएम सुप्रीमो असदउद्दीन ओवैसी ने योगी आदित्यनाथ...

    कल बिहार विधान सभा का घेराव करेंगे शिक्षक संघ

    BHAGALPUR: बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ ने मंगलवार...